बिहारी लाल जी की प्रेरणादायक कहानी

0
बिहारी-लाल-जी-की-प्रेरणादायक-कहानी

प्रेरणादायक कहानी

बैजनाथ की उपतहसील चड़ीयार के समीप गाँव भुलाना के बिहारी लाल जो कि 100% दृष्टिहीन है ! और हमारी नजर में किसी रियल हीरो से कम नहीं है ! यूट्यूब और गूगल सर्च करेंगे तो बहुत सी ऐसी प्रेरणादायक कहानियां आपको मिल जाएगी उन्हीं में से एक बिहारी लाल जी है ! सलाम है इनकी हिम्मत को जो दृष्टिहीन होने के बावजूद खुद मनरेगा में काम करते है ! और इन सब के अलावा वो घर पर ही फोल्डिंग कुर्सियां बनाते है ! बिहारी लाल जी शादीसुदा है उनका एक लड़का है जो कि पालमपुर में गाड़ी चलाता है ! बिहारी लाल जी का बेटा पहले चंडीगढ़ में काम किया करता था लेकिन लॉकडाउन के बाद से वो घर आना पड़ा उसके बाद से पालमपुर में गाड़ी चलाता है ! बिहारी लाल जी विवाह शादी में बैंड का काम भी करते है !

यह लेख भी पढ़ें:डॉक्टर भीमराव रामजी आंबेडकर

“हेल्पिंग हैंड्स टीम” चड़ीयार में जरूरतमंद के परिवार के सहयोग हेतु मिलने गयी थी तो आते वक़्त बिहारी लाल जी से मुलाकात हुई ! उनके विचार सुनकर हमें बहुत प्रसन्नता हुई कि आज के इस युग में ऐसे भी इंसान है जो भीख न मांग कर मेहनत और खुद्दारी से जीना पसंद करते है ! बिहारी लाल जी का मेडिकल पास बना हुआ है इन्हें 100% ब्लाइंड पेंशन लगी हुई है ! बिहारी जी से जब हेल्पिंग हेंड्स टीम ने मुलाकात की तो उन्होंने कहा कि वो मेहनत करके जीना चाहते है ! उन्होंने कहा कि वो आँखों से दृष्टिहीन है शरीर से नहीं ! उन्होंने अपनी मेहनत से पहाड़ को काटकर दी घर की नीव ! जो कि खुद में एक मिशाल है कि एक नेत्रहीन इंसान भी ऐसा कर सकता है !

यह भी जरुर पढ़ें:महान आचार्य चाणक्य

बिहारी जी से वार्तालाप हुई तो उन्होंने बताया कि उन्हें मेहनत कर लड़ना उन्हें उनके गुरु रूप मिले माता पिता ने सिखाया ! लेकिन अफ़सोस उनके माता पिता उन्हें छोटी उम्र में छोड़ के चले गए ! आगे की ज़िन्दगी से उन्होंने खुद ही सफ़र तय किया उसके बाद उनका सहारा बन उनकी धर्मपत्नी ने उनका साथ दिया ! सलाम है उनको जिन्होंने एक ब्लाइंड लड़के से शादी कर उनका साथ दिया ! आज के युग में ऐसी स्त्री का मिलना बहुत मुशिकल होता है !
बिहारी लाल जी को सलाम है जो कि नेत्रहीन होने के बावजूद भी खुद्दारी से अपना जीवन यापन कर रहे है ! आपके यहाँ कोई भी ऐसी प्रेरणादायक कहानी हो तो हमें मेल करें !
Mail Id: mv@purabharat.com

SHARE
Previous articleJetpack क्या है इसके बारे में पूरी जानकारी
Moniveer: Moniveer PuraBharat.com में आपका तह दिल से स्वागत करता हु और PuraBharat.com पढ़ने वालो को दिल से धन्यावाद करता हूँ मेरा यह ब्लॉग बनाने का मकसद सिर्फ आप लोगों तक कुछ जरुरी जानकारी देना है! मेहनत हमेशा खामोशी से करो और जीत ऐसी करो कि तुम्हारे फैसले दुनिया को बदल दे न कि दुनिया के फैसले तुम्हें बदल सके। जब तक दिल मे हार का डर रखोगे जीतना मुशिकल हो जाएगा हार हो या जीत मैदान कभी मत छोड़ो क्योंकि हार भी बहुत जरूरी है जब तक हारोगे नही जीत का आनंद नहीं उठा सकोगे जीत भी उसी की होती है जो हारना जानता है क्योंकि जीत का असली आनंद हारा हुआ व्यक्ति ही उठा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here